Hansne Ki Chaah Ne

Lyrics by Kapil Kumar

हंसने की चाह ने कितना मुझी रुलाया है
कोई हमदर्द नहीं दर्द मेरा साया है

ha.nsne kI chaah ne kitnA mujhe rulaayA hai
koI hamdard nahI.n, dard merA saayA hai

चाह, Chaah: Affection, Appetite, Choice, Desire, Liking, Longing, Love, Need, Urgency, Volition, Want, Well, Wish
रुलाना, Rulaana: To cause to weep/cry
हमदर्द, Hamdard: Benefactor, Kindly, Partner In Adversity Sympathizer, Tender-Hearted
दर्द, Dard: Ache Affliction, Compassion, Languor, Pain, Sympathy
साया, Saaya: Shadow, Shade, Shelter, Apparition

दिल तो उलझा ही रहा ज़िन्दगी की बातों में
साँसें जलती हैं कभी कभी रातों में
किसी की आह पर तारों को प्यार आया है

dil to uljhA hI rahA zindagI kI baato.n me.n
saa.nse.n jaltI hai.n kabhI kabhI raato.n me.n
kisi kI aah par taaro.n ko pyaar aayA hai

उलझा, Uljha: Enmesh, Entangle, Fight, Tangle
सांस, Saans: Breath, Sigh
जलना, Jalna: Burn
आह, Aah:Ah!, Groan, Oh!, Sigh
तारा, Tara: Star

सपने छलते ही रहे रोज़ नै राहों से
कोई फिसला है अभी अभी बाहों से
किसकी ये आहटें ये कौन मुस्कुराया है

sapane chhalte hI rahe roz naI raaho.n se
koI phislaa hai abhI abhI baaho.n se
kiskI yeh aahaTe.n ye kaun muskuraayA hai

सपना, Sapna: Dream, Wish
छलना, Chhalna: To deceive, delude, trick, cheat, outwit, circumvent, impose on; to evade; to feign, pretend; to represent jalsely; to personate
फिसलना, Phisalna:To Slip
आहट, Aahath: Sound of feet approaching, sound of soft footsteps; sound, noise, clack, tick

Advertisements

2 comments so far

  1. Yash Paul Geet on

    क्या बताऍ के जॉ गई कैसे
    फिर से दोहराऍ वो घड़ी कैसे
    क्या बताऍ के जॉ गई कैसे

    किसने रास्ते मे चॉद रखा था
    मुझको ठोकर लगी कैसे
    क्या बताऍ के जॉ गई कैसे

    वक़्त पे पॉव कब रखा हमने
    ज़िदगी मुह के बल गिरी कैसे
    क्या बताऍ के जॉ गई कैसे

  2. yash on

    सुन ली जो खुदा ने वो दुआ तुम तो नहीं हो ।
    दरवाजे पे दस्तक की सदा तुम तो नहीं हो ।
    महसूस किया तुम को तो गीली हुई पलकें ,
    बदलें हुए मौसम की अदा तुम तो नहीं हो ।
    अन्जानी सी राहों में नहीं कोई भी मेरा ,
    किस ने मुझे युँ अपना कहा तुम तो नहीं हो ।
    दुनिया को बहरहाल गिले शिकवे रहेगे ,
    दुनिया की तरह मुझ से खफ़ा तुम तो नहीं हो ।


Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s